36 मिसाइल को मारने वाला ‘दोस्त’ या अमेरिका की दुश्मनी…भारत क्या चुनेगा आज

रूसी राष्ट्रपति भारत की दो दिन की यात्रा पर आज आ रहे हैं। रूस और भारत के बीच एक ऐसा समझौता होने जा रहा है जिससे भारत और अमेरिका के रिश्तों में खटास आने की आशंका है। हालांकि s-400 सिस्टम के अलावा उन्नीस समझौतों पर हस्ताक्षर हो सकते हैं लेकिन एस-400 को लेकर अमेरिका इतना चिंतित क्यों है, इसके उसने भारत को चेतावनी भी दी हुई है। क्रेमलिन, जिसे रूस की संसद कहते हैं, से ये बात कही गई है कि भारत दौरे में पुतिन 37000 करोड़ रुपये के एस-400 डिफेंस सिस्टम पर हस्ताक्षर कर सकते हैं। अगर भारत को एस-400 डिफेंस सिस्टम मिलता है तो यह countering america’s adversaries through sections act का उल्लंघन होगा। ये ऐसा कानून है जिसमें कोई देश रूस से हथियार नहीं खरीद सकता है। वहीं, कुछ अमेरिकी सांसदों का मानना है कि इस मामले में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से विशेष छूट मिल सकती है। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने बुधवार को कहा कि हम अपने सभी सहयोगियों को रूस के साथ व्यापार न करने का अनुरोध कर चुके हैं। अगर ये देश नहीं मानते हैं तो सहयोगी देशों पर CAATSA के तहत प्रतिबंध लगाना होगा।

क्या है S-400 सिस्टम

एस-400 मिसाइल सिस्टम, पृथ्वी से हवा में मार करने वाला यह सिस्टम दुश्मन देशों के लड़ाकू जहाजों, मिसाइलों और ड्रोन को पलक झपकते ही खत्म करने में माहिर है। रूस ने इस सिस्टम को सीरिया में तैनात किया हुआ है। एयर डिफेंस सिस्टम मिसाइलों, लड़ाकू विमानों को भी 400 किलोमीटर के दायरे में आते पल भर में नेस्तानाबूद कर देगा। ये डिफेंस सिस्टम मिसाइल शील्ड का काम करेगा। यह पाकिस्तान और चीन की एटमी क्षमता वाली बैलिस्टिक मिसाइलों से भारत को सुरक्षित रखेगा। S-400 अमेरिका के सबसे एडवांस्ड फाइटर जेट एफ-35 को भी गिराने की क्षमता रखता है। S-400 सिस्टम ’36 परमाणु क्षमता वाली मिसाइल्स को एकसाथ नष्ट कर सकता है।’ अगर ये डील होती है तो चीन के बाद इस सिस्टम को खरीदने वाला भारत दूसरा देश बन जाएगा।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s