‘दादा’ बने प्रधानमंत्री मोदी, पोती का नाम रखा ‘आयुषी’

जैसा कि हम सब जानते है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अपनी कोई संतान नहीं है लेकिन वे दादा जरुर बन गए हैं। जी हां… सोच में पड़ गए ना आप। लेकिन ऐसा हो गया है और हुआ कुछ इस तरह से कि प्रसव के लिए पूनम सदर अस्पताल में भर्ती थी। परिजन सहमे थे कि यदि कहीं जच्चा-बच्चा की तबीयत बिगड़ गई तो क्या होगा। किसी निजी अस्पताल ले जाने की नौबत आई तो रुपये का इंतजाम कहां से करेंगे। कारण, किसी तरह वे दो हजार रुपये का ही इंतजाम कर सके थे। ऐसे में निजी अस्पतालों का बिल कैसे चुकता कर पाएंगे। खुशी की बात यह रही कि सदर अस्पताल में ही ऑपरेशन से पूनम ने बिटिया को जन्म दिया।

शुक्रवार को अस्पताल में पूनम ने कहा, ‘मैंने सोचा भी नहीं था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हम गरीबों के लिए इतनी बड़ी योजना लाएंगे। मोदीजी ने वाकई 56 इंच का सीना दिखाया है।’ पति सिकंदर महतो कहते हैं कि पूनम को जब 23 सिंतबर को प्रसव हेतु भर्ती कराया तो चिंता सता रही थी। मुझे बाद में पता चला कि इस योजना के तहत पाच लाख रुपये तक का इलाज खर्च सरकार वहन करेगी। योजना का लाभ उठाने के लिए उनसे राशन कार्ड व आधार कार्ड का फोटो कापी जमा ले लिया गया था। उस समय तक उसे इस योजना की जानकारी नहीं थी। बच्ची के जन्म के बाद उसे गोल्डन कार्ड दिया गया। सिकंदर कहते हैं कि यह गरीबों के लिए वरदान है।

शनिवार को टाका कटने के बाद रविवार को छुंट्टी मिल जाएगी। देशभर की पहचान बन चुकी आयुषी के पिता सिकंदर महतो कहते हैं कि आयुषी के पहले से पांच दादा हैं, अब ‘छह’ दादा हो गए। छठे का नाम- नरेंद्र मोदी है। कहते हैं कि नरेंद्र मोदी अब उनके परिवार से सीधे जुड़ गए हैं। जिदंगी भर उन्हें घरवाले याद रखेंगे। उन्हें उम्मीद है कि बिटिया बड़ी हो कर परिवार और प्रधानमंत्री का नाम रोशन करेगी। सदर अस्पताल की उपाधीक्षक डॉ. वीणा सिंह ने कहा कि पहली लाभार्थी पूनम व आयुषी दोनों स्वस्थ हैं। यहा आनेवाले मरीजों को भर्ती कर उनका राशन व आधार कार्ड लिया जा रहा है, ताकि योजना का लाभ उन्हें मिल सके।

2 thoughts on “‘दादा’ बने प्रधानमंत्री मोदी, पोती का नाम रखा ‘आयुषी’

  1. Very nice initiative by government of India, special thanks to our prime minister Shri Narendra Modi ji to execute such direct beneficial scheme for needy people in India.

    Like

  2. यह बहुत महत्वपूर्ण कार्य हुआ, परन्तु यह योजना क्या है यह भी तो समझ में आना आवश्यक है जिससे आम आदमी लाभान्वित हो सके। तात्पर्य यह कि योजना का थोड़ा-सा खुलासा किया जाता तो अधिक उपयोगी रहता।

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s