प्यार में दिल टूटने पर शरीर भी टूटता है : वैज्ञानिक

समीक्षा खरे की एक रिपोर्ट

हम मनुष्य के रूप में एक सामाजिक प्राणी हैं. हमें अपने मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य के लिए जीवन में स्वस्थ और खुशहाल रिश्तों की जरूरत होती है. दुख, रिजेक्शन या किसी को खोने के एहसास के प्रति हमारी शारीरिक प्रतिक्रिया खुद को जिंदा रखने के लिए होती हैं. जैसा कि कई अध्ययनों में देखा गया है, सामाजिक वैज्ञानिकों का मानना है कि ऐसा बहुत पहले से है, जब इंसान जीवित रहने के लिये झुंड में रहते थे. भारी दिल से अलविदा कहना, दिल दुखना, दिल टूटना, दिल का दर्द…आपने कभी न कभी बोलचाल में इनका इस्तेमाल जरूर किया होगा. हम में से ज्यादातर लोग इन्हें सिर्फ कहावत मान सकते हैं, लेकिन क्या आपने कभी ये सोचा है कि रिलेशनशिप टूटने पर ऐसी बातें ही सबसे पहले क्यों आती हैं. इसे हार्टब्रेक भी कहा जाता है क्योंकि कोई खास रिश्ता टूटने पर सिर्फ भावनात्मक (इमोशनल) तकलीफ नहीं होती, इसमें वाकई में शारीरिक दर्द (फिजिकल पेन) होता है.

ब्रेकअप के कारण सिर्फ दुख ही नहीं, बल्कि घबराहट, उदासी और खुशी के खो जाने का एहसास इन सभी भावनाओं का हमारे शरीर पर भी असर पड़ता है. हां, सीने में भारीपन महसूस करने वाले आप अकेले नहीं हैं. कुछ लोगों को ये भारीपन सीने में महसूस होता है, किसी को पेट में और कुछ ऐसे भी होते हैं जिन्हें पूरे शरीर में दर्द महसूस होता है. यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध हो चुका है कि भावनाओं में बदलाव के साथ ही शारीरिक परिवर्तन भी होते हैं. मिशिगन के इमोशन और सेल्फ कंट्रोल लैब यूनिवर्सिटी के एथन क्रॉस ने साल 2011 में सामाजिक अस्वीकृति और शारीरिक दर्द पर एक अध्ययन प्रकाशित किया।

आंत में खून की यह कमी मांसपेशियों में खिंचाव का कारण बनती है और आपके पाचन को भी प्रभावित करती है. पेट में रक्त और ऑक्सीजन की ये कमी महसूस होती है, इसलिए इसकी खुद की संवेदी तंत्रिका हमें बताती है कि यह स्थिति ठीक नहीं है. इसलिए, भूख लगने की आदत या डाइट बदल जाती है.

इसलिए, ऐसा मत सोचिए कि ये सब सिर्फ आपके साथ ही होता है. दिल का दर्द और दूसरी भावनात्मक तकलीफ का शरीर पर असर पड़ता है. इससे आप कैसे निपटते हैं, यह आप पर निर्भर करता है. हां, धीरे-धीरे और लगातार मुकाबला कर ऐसे हालात पर काबू पाया जा सकता है.sad-breakup-wallpaper

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s