ट्रंप की विदेश नीति समझ बच्चों जैसी है : बॉब वुडवर्ड

donald trumpवॉशिंगटन. अमेरिका के सबसे बड़े स्कैंडल वॉटरगेट का खुलासा करने वाले पत्रकार ने ट्रम्प के व्हाइट हाउस कार्यकाल पर एक किताब लिखी है। इसमें दावा किया गया है कि व्हाइट हाउस के अधिकारी ट्रम्प के सामने कई अहम और संवेदनशील दस्तावेज पेश ही नहीं करते। किताब में अफसरों के हवाले से लिखा गया है कि कई लोग वहां उन्हें बेवकूफ और झूठा भी कहते हैं। यहां तक की देश के रक्षामंत्री जेम्स मैटिस भी उनकी समझ को पांचवीं के बच्चे के बराबर बता चुके हैं।
किताब लिखने वाले द वाशिंगटन पोस्ट के वरिष्ठ पत्रकार बॉब वुडवर्ड ने किताब का नाम ‘फियर: ट्रम्प इन द व्हाइट हाउस’ दिया है । यह किताब 11 सितंबर को रिलीज होगी। हालांकि, कुछ मीडिया संस्थानों ने पहले ही किताब के हिस्सों को रिलीज कर दिया। किताब में ट्रम्प के आने के बाद से व्हाइट हाउस के कामकाज की बिगड़ती स्थिति के बारे में बताया गया है।

ट्रम्प ने सीरिया के राष्ट्रपति बशर की हत्या की साजिश की: किताब में कहा गया है कि ट्रम्प ने पेंटागन को सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद की हत्या की साजिश रचने के लिए कहा था। इस पर पहले मैटिस ने ट्रम्प के अनुरोध पर गौर किया, लेकिन उनके जाने के बाद अपने साथी से ऐसा कोई कदम नहीं उठाने के लिए कहा। इसके अलावा किताब में बताया गया है कि चीफ ऑफ स्टाफ जॉन केली ट्रम्प की मानसिक स्थिति पर सवाल खड़े कर चुके हैं। एक मीटिंग के दौरान उन्होंने व्हाइट हाउस का पागलों की जगह कह दिया था।

मध्यावधि चुनावों से पहले छवि खराब करने की कोशिश: किताब के कुछ अंश बाहर आने के बाद व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी सारा सैंडर्स ने बयान जारी किया। इसके मुताबिक, “किताब में गढ़ी हुई कहानियां शामिल की गई हैं। यह कहानियां बॉब (लेखक) को व्हाइट हाउस के कुछ असंतुष्ट कर्मचारियों से मिली हैं।” इसके अलावा खुद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भी ट्वीट कर कहा कि बॉब की किताब में लिखी बातों को रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस और गृह मंत्री जॉन केली ने झूठ बताया। उन्होंने किताब के समय पर सवाल खड़े करते हुए पूछा कि क्या बॉब डेमोक्रेट्स के लिए काम कर रहे हैं?

कितने भरोसेमंद हैं बॉब वुडवर्ड?: बॉब वुडवर्ड वॉशिंगटन पोस्ट अखबार के सीनियर एसोसिएट एडिटर हैं। अमेरिका के मीडिया जगत में उन्हें काफी सम्मान दिया जाता है। दरअसल, बॉब ने अपने एक साथी के साथ पूर्व राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन के वॉटरगेट स्कैंडल का खुलासा किया था। इस स्कैंडल के सार्वजनिक होने के बाद निक्सन को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था। बॉब अब तक जॉर्ज बुश और बराक ओबामा जैसे नेताओं पर किताबें लिख चुके हैं। उन्हें राजनीति में विशेषज्ञ पत्रकार माना जाता है। बताया जाता है कि जब किताब के सिलसिले में बॉब ने ट्रम्प से बात करने के लिए कहा तो तो अधिकारियों ने उन्हें व्हाइट हाउस आने से रोक दिया।

वॉटरगेट स्कैंडल: जून 1972 को वॉशिंगटन स्थित वॉटरगेट कॉम्पलेक्स बिल्डिंग में डेमोक्रेटिक नेशनल कमेटी के ऑफिस में कुछ चोरों को पकड़ा गया था। यह कोई साधारण चोरी नहीं थी, क्योंकि चोरों का संबंध राष्ट्रपति निक्सन के चुनाव अभियान से था। चोरों को विपक्षियों के फोन टेप करने और संवेदनशील दस्तावेज चुराने का दोषी पाया गया था। निक्सन ने मामला दबाने की काफी कोशिश की, लेकिन अगस्त 1974 में न्यूयॉर्क टाइम्स और वॉशिंगटन पोस्ट में मामला छपने के बाद उन्हें इस्तीफा देना पड़ा।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s