दिल्ली का सबसे ऊंचा भवन होगा ‘अटल बिहारी वाजपेयी भवन’

नई दिल्ली.  राजधानी के प्रसिद्ध रामलीला मैदान का नामकरण पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर करने को लेकर हाल ही में विवाद हो गयाथा। लेकिन, साउथ एमसीडी ने फैसला किया है कि प्रगति मैदान के पास आईपी एस्टेट में एमसीडी के प्रस्तावित मुख्यालय बनने जा रहा है, उसका नाम वाजपेयी के नाम पर रखा जाएगा।

यह इमारत राजधानी की सबसे ऊंची इमारत होगी और यह 2020 तक बनकर तैयार हो जाएगी। इस संबंध में प्रस्ताव को एमसीडी ने बुधवार को हरी झंडी दे दी है। बुधवार को साउथ एमसीडी के सदन की बैठक में प्रस्तावित मुख्यालय के भवन को ‘अटल बिहारी वाजपेयी भवन’ नाम रखने का प्रस्ताव नेता सदन कमलजीत सहरावत की ओर से रखा गया। इस प्रस्ताव को सदन में मौजूद सभी पार्षदों ने अपना समर्थन दे दिया। सहरावत के प्रस्ताव रखने से पहले 20 अगस्त को साउथ दिल्ली के मेयर नरेंद्र चावला ने मुख्यालय का नाम रखने के संबंध में निगम सचिव को नामकरण समिति की बैठक बुलाने के संबंध में चिट्‌ठी लिख दी थी। इस चिट्‌ठी में मेयर ने कहा कि मुख्यालय का नाम
पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी के नाम पर रखने से ये उनके लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

अभी सिविक सेंटर है सबसे ऊंची बिल्डिंग : आईपी इस्टेट में बनने वाले भवन में साउथ एमसीडी का मुख्यालय होगा। इसके निर्माण को लेकर एमसीडी और एनबीसीसी (नेशनल बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कॉरपोरेशन) के बीच समझौता भी हो चुका है। यह भवन 2020 के अंत तक बनकर तैयार होने की उम्मीद जताई जा रही है। यह इमारत 30 मंजिला होगी, जोकि मौजूदा सबसे ऊंची इमारत सिविक सेंटर से 2 मंजिला ज्यादा है। अभी सिविक सेंटर 28 मंजिला है। यहां बेसमेंट में तीन मंजिला नीचे तक पार्किंग है, जिसकी क्षमता 2500 कारों के पार्क करने की है।

सिविक सेंटर में है साउथ एमसीडी का मुख्यालय : 2012 में एमसीडी के 3 हिस्से होने के बाद नॉर्थ और साउथ एमसीडी का मुख्यालय सिविक सेंटर हो गया था, जबकि ईस्ट एमसीडी का मुख्यालय पटपड़गंज में बन गया। सिविक सेंटर नॉर्थ एमसीडी के एरिया में हाेने की वजह से यह नॉर्थ एमसीडी की प्रॉपर्टी माना गई। साउथ एमसीडी मुख्यालय के लिए जमीन तलाश रहा था।

केजरीवाल ने पहले पीएम पर बोला था हमला : रामलीला मैदान का नाम अटलजी के नाम पर रखने की खबरें जब मीडिया में आईं तो सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर पीएम मोदी पर हमला बोला था। कहा कि भाजपा को पीएम का ही नाम बदल देना चाहिए। चौतरफा सियासी हमले होते देख बीजेपी बैकफुट पर आ गई थी। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने वीडियो जारी कर ऐसा कोई प्रस्ताव न होने की बात कही थी।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s